टीम इंडिया के पास ICC टेस्ट चैम्पियनशिप की सबसे सफल टीम बनने का मौका, इंग्लैंड जीता तो WTC से हो जाएंगे बाहर

    0
    97

    भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद में कल यानी 4 मार्च से चौथे और आखिरी टेस्ट की शुरुआत होगी। 4 टेस्ट की सीरीज में भारत फिलहाल 2-1 से आगे है। आखिरी टेस्ट टीम इंडिया के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण रहने वाला है। भारत अगर यह टेस्ट जीतता है या ड्रॉ करा लेता है, तो जून में होने वाले ICC वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंच जाएगा।

     

    अगर टीम इंडिया हारती है, तो सीरीज के साथ-साथ अपनी जगह भी गंवा देगी। ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई टीम बेहतर पॉइंट पर्सेंट के साथ फाइनल के लिए क्वालिफाई कर लेगी। इसके साथ ही टीम इंडिया के पास ICC वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में सबसे सफल टीम बनने का भी मौका है। भारत ने अब तक 6 टेस्ट सीरीज में 16 में से कुल 11 मैच जीते हैं और 4 हारे हैं, वहीं इंग्लैंड ने 20 में से 11 जीते और 6 हारे हैं।

     

     

     

    इस टेस्ट में विराट कोहली भी कई रिकॉर्ड अपने नाम करना चाहेंगे। चौथे टेस्ट में उतरने के साथ ही विराट महेंद्र सिंह धोनी के सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। बतौर कप्तान विराट का यह 60वां टेस्ट होगा। धोनी ने भी इतने ही टेस्ट में टीम इंडिया की कप्तानी की है। इसमें से उन्होंने 35 टेस्ट में टीम इंडिया को जीत दिलाई है। अगला टेस्ट जीतते हैं, तो वे वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान क्लाइव लॉयड के सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। वे इस मामले में लॉयड के साथ चौथे नंबर पर आ जाएंगे।

     

    कोहली अगर चौथे टेस्ट में सेंचुरी लगाते हैं, तो वे इंटरनेशनल क्रिकेट में पोंटिंग के बतौर कप्तान सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाने के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे। यह एक ऐसा रिकॉर्ड है, जिसका इंतजार फैंस पिछले 15 महीने से कर रहे हैं। पोंटिंग-कोहली के नाम 41-41 सेंचुरी हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here