अन्त्योदय कार्ड धारक परिवार के सदस्य बनवायें आयुष्मान कार्ड- सी.एम.ओ.

0
9

औरैया। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) के लाभार्थियों की सूची में अंत्योदय कार्ड धारकों को भी शामिल कर लिया गया है । राज्य सरकार की ओर से इसके लिए पहले ही निर्देश जारी किये जा चुके हैं । इसी क्रम में जिले में अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों के आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य भी शुरू हो गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि शासन के निर्देश पर आयुष्मान भारत योजना में अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों को भी जोड़ा गया है । खाद्य एवं रसद विभाग में पंजीकृत कार्ड धारकों के कार्ड बनाने के लिए कार्य किया जा रहा है । उन्होंने बताया कि आयुष्मान कार्ड धारक अपने कार्ड की सहायता से देश में आयुष्मान भारत योजना से आबद्ध सरकारी और निजी अस्पतालों में पांच लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं । यह योजना गरीब तथा आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवारों के लिए बहुत की लाभदायक है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य से जुड़ी बड़ी बीमारियों में लाखो रुपये खर्च हो जाते है पर इस योजना के अन्तर्गत पांच लाख रुपये तक का उपचार निःशुल्क प्राप्त होता है ।

डॉ. अर्चना श्रीवास्तव ने बताया यदि किसी के पास प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री की ओर से पत्र आया है या अन्त्योदय कार्ड धारक हैं और आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना की पात्र सूची में नाम शामिल है तो आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं । जिस किसी ने भी पात्रता के बावजूद अभी तक आयुष्मान कार्ड नहीं बनवाया है वह अपना कार्ड जल्द से जल्द बनवाएं |

डॉ. अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि अंत्योदय कार्डधारक परिवार या प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री की ओर से आयुष्मान भारत योजना के पत्र प्राप्त करने वाले जिन लाभार्थियों ने अभी तक आयुष्मान कार्ड नहीं बनवाया है वह सभी पात्र लाभार्थी कॉमन सर्विस सेंटर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आरोग्य मित्र से व जनसेवा केंद्रों पर कार्ड बनवा सकते हैं । लाभार्थी को अपना व अपने परिवार के सभी सदस्यों का आधार कार्ड व अंत्योदय कार्ड धारक लाभार्थी को राशनकार्ड एवं परिवार पहचान पत्र की प्रति के साथ आवेदन करना होगा। आयुष्मान कार्ड पूरी तरह निःशुल्क है इसलिए आपको किसी भी प्रकार का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। इस संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए 14555 पर संपर्क कर सकते हैं।
इसके साथ ही कहा – अब तक जिले में लगभग 4000 आयुष्मान कार्ड बनाये जा चुके हैं और कुछ अंत्योदय कार्डधारकों के आयुष्मान कार्ड पहले से ही बने हुए हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here