आयुष्मान योजना: नहीं बनवाया है तो बनवा लीजिये फ्री गोल्डन कार्ड

0
25

प्रतापगढ़ 25 मार्च 2021: प्रधानमंत्री जन आरोग्य आयुष्मान भारत अभियान के तहत योजना के चयनित लाभार्थियों का गोल्ड कार्ड बनाए जाने के लिए जनपद में 10 से 24 मार्च 2021 तक आयुष्मान पखवाड़ा आयोजित कर 22,345 लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाये गए | स्टेट से आये निर्देश के तहत अभियान को आगे 31 मार्च तक के लिए बढ़ा दिया गया हैं ।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. ए.के श्रीवास्तव ने बताया आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना के तहत अब तक 2 लाख लाभार्थियों के कार्ड बनाये जा चुके हैं और निरंतर कार्ड बनाने की प्रक्रिया चल रही हैं | गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए नजदीकी सीएससी सेंटर पर या फिर आयुष्मान भारत के सूची अस्पतालों में गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। इसके लिए आधार कार्ड, राशन कार्ड या आयुष्मान योजना का लाभार्थी पत्र और फोटो की आवश्यकता होती है ।

आयुष्मान भारत कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉक्टर सुधाकर ने बताया कि अभियान को जिला विकास अधिकारी अश्विन कुमार पाण्डेय के दिशा निर्देश पर कार्यक्रम को युद्ध स्तर पर किया गया हैं | जिले में सभी जन सुविधा केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं जिला चिकित्सालय में नि:शुल्क गोल्डन कार्ड बनाया गया हैं । और गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए जन सुविधा केंद्र द्वारा किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लिया गया हैं । इस पखवाड़े में आयुष्मान भारत योजना के चयनित परिवारों का कार्ड बनाया गया हैं । अभियान में लक्षित परिवारों के गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए हरसंभव प्रयास किए गए । जिले में 6 निजी चिकित्सालयों व 36 सरकारी चिकित्सालयों को आयुष्मान भारत योजना के तहत जोड़ा जा चुका है।

उन्होंने बताया कि ये अभियान स्टेट की तरफ से 31 तक बढ़ा दिया गया है और 31 के बाद भी अभियान तब तक चलता रहेगा जब तक हम 80 % तक लोगो के गोल्डेन कार्ड नही बन जाते हैं लोगों के हित को ध्यान रखते हुए जन सेवा केंद्र के वी.एल.ई तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के आयुष्मान मित्र के जरिये गोल्डन कार्ड बनाये जाने की निशुल्क सेवाएँ निरंतर जारी रखी जाएगी अधिक जानकारी के लिए लाभार्थी अपने निकटम सामुदायिक/ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर संपर्क कर सकता हैं |

आयुष्मान कार्ड के फायदे:–
 इस कार्ड के रखने से अस्पताल पहुंचने पर लाभार्थी का घंटों का समय बच जाता है ।
 अगर यह कार्ड है तो आरोग्य मित्र वेरीफाई कर मरीज का तुरंत इलाज शुरु करवा देते हैं ।
 कार्ड एवं क्यूआर कोड होता है जिसे स्कैन करके तुरंत लाभार्थी का वेरिफिकेशन हो जाता है ।
 सामान्य दिनों में भी 30 देकर किसी भी जनसेवा केंद्र से लाभार्थी यह कार्ड बनता है, अभियान में यह सुविधा नि:शुल्क होगी ।
 मरीजों को इलाज में निशुल्क व्यवस्था देने के मकसद से कार्ड की व्यवस्था लागू की गई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here