जिले में 18 अक्टूबर से शुरू होगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान : सीडीओ

0
19

कौशांबी : कौशांबी, 14 अक्टूबर 2021: जनपद के सम्राट उद्यान सभागार कलेक्ट्रेट में मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) शशिकांत त्रिपाठी की अध्यक्षता में अंतर्विभागीय समन्वय समिति की बैठक हुई । बैठक में उन्होने कहा कि जिले में संचारी रोग नियंत्रण अभियान 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक चलाया जाएगा। संचारी रोगों तथा दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण एवं कार्यवाही के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

होगी निःशुल्क रोगी वाहन की व्यवस्था
सीडीओ ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को रोगियों के लिए निःशुल्क रोगी वाहन की व्यवस्था, ग्रामीण क्षेत्रों में वाहन के घनत्व का आंकलन, वेक्टर जनित रोगों की रोकथाम के लिए आवश्यकतानुसार फागिंग , प्रचार-प्रसार एवं व्यवहार परिवर्तन गतिविधियों की मॉनिटरिंग, पर्यवेक्षक रिपोर्टिंग, अभिलेखीकरण तथा विश्लेषण आदि करने के निर्देश दिए हैं। नगर विकास विभाग को नगरीय क्षेत्र में मोहल्ला निगरानी समितियों के माध्यम से संचारी रोग के विषय में निरंतर जागरूकता बढ़ाने तथा कोविड संक्रमण के लक्षणयुक्त व्यक्तियों को दवा उपलब्ध कराने में सहयोग करने को कहा है । व्यक्तिगत स्वच्छता के उपाय हेतु खुले में शौच न करने, शुद्ध पेयजल का प्रयोग तथा मच्छरों की रोकथाम के लिए जागरूकता अभियान को संचालित करने के लिए निर्देशित किया।

प्रधान बनेंगे गाँव में अभियान के नोडल
पंचायती राज विभाग, ग्राम्य विकास विभाग के ग्राम प्रधानों को अपने ग्राम में अभियान के नोडल के रूप में कार्य कर ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम निगरानी समितियों के माध्यम से कोविड तथा संचारी रोगों के विषय में निरंतर जागरूकता स्थापित करना होगा। इसके साथ ही शुद्ध पेयजल की व्यवस्था कराना एवं वेक्टर कंट्रोल जलाशयों एवं नालियों की नियमित सफाई, झाड़ियों की काट-छाँट का कार्य तथा जलाशयों एवं तालाब में उगने वाले हाइसिन्थ पौधों की सफाई, वातावरणीय स्वच्छता व पशुपालकों का गहन संवेदीकरण कराने के लिए आदेशित किया।

पोस्टर व निबंध के माध्यम से पहुंचाएं जागरूकता सन्देश
बाल विकास सेवा एवं पुष्टहार विभाग की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को संचारी रोग तथा दिमागी बुखार के बारे में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। शिक्षा विभाग को छात्रों की गतिविधियों में उनके अभिवावकों की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। पोस्टर या निबंध आदि के माध्यम से अभिवावकों को भी दो पंक्तियों की टिप्पणी लिखने को निर्देशित किया गया है।

इन विभागों को मिली जिम्मेदारी
इसी प्रकार चिकित्सा शिक्षा विभाग, दीवयांगजन सशक्तिकरण विभाग, कृषि एवं सिंचाई विभाग, सूचना विभाग व उद्यान विभाग आदि संबन्धित विभागों को निर्देश दिए गए हैं। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला मलेरिया अधिकारी,जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, नोडल वेक्टर बार्न , यूनिसेफ एवं डबल्यूएचओ के प्रतिनिधि समेत अन्य संबन्धित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here