आज राष्ट्रीय मीडिया में छाया है प्रयागराज के मो॰ हसन जैदी का नाम

    0
    13

    प्रयागराज । पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो गृह मंत्रालय के 51वें स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर जनपद प्रयागराज में करेली के रहने वाले मोहम्मद हसन जैदी को उनके द्वारा लिखित भारत की पहली पुस्तक ‘सोशल मीडिया से साइबर अपराध’ के लिए गृह मंत्री अमित शाह द्वारा किया गया संम्मानित।


    मोहम्मद हसन जैदी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एल.एल.बी. की डिग्री पूरी करने के बाद एल.एल. एम. की डिग्री प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण किया। वर्तमान समय में आपने किशोर न्याय व्यवस्था से सम्बन्धित महत्वपूर्ण विषय जैसे- किशोर न्याय विधि, मानव तस्करी बालकों के विरुद्ध लैंगिक अपराध, बालश्रम तथा बाल वैश्यावृत्ति जैसे विषयों पर शोध कर लेखन कार्य किया है। श्री दी उच्चतम तथा उच्च न्यायालय सम्बन्धित कई विधि पत्रिकाओं जैसे सेलेक्टेड सिविल डिसीजन, याण्डिक निर्णय रिपोर्टर तथा राजस् टाइम्स के मैनेजिंग सम्पादक भी है। विधि के क्षेत्र में जैदी ने सदैव उन विषयों पर अपनी शोध किया है, जिसपर इसके पूर्व कोई प्रयास नहीं किया गया था। अपराध न्याय सिद्धान्त की पूर्ति में इन्होंने विभिन्न आई०पी०एस० अधिकारियों के साथ संयुक्त रूप से निम्न पुस्तकें लिख कर अपना भूतपूर्व योगदान दिया है एण्ड पैटरनिटी 1 टिस्यूट (2) नारको बेनमैपिंग, पॉलीग्राफ टेस्ट, हिप्नोसिस इन इन्टेरोनेशन ऑफ सस्पेक्ट (3) साइबर क्राइम मोबाइल फोन एण्ड इलेक्ट्रानिक सर्विलांस (5) फारेन्सिक साइना (6) एण्टी रैगिंग लाइन एण्ड) विधि विज्ञान तथा चिकित्साशास्त्र (8) मानवाधिकार विधि (9) वैज्ञानिक तथा तकनीकी (10) कन्या भ्रूण हत्या (लिंग चयन निषेध) विधि (11) अपराधिक विवेचना (12) लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम (13) आपराधिक विधि में माननीय उच्चतम न्यायालय एवं उच्च न्यायालयों के मार्गदर्शक सिद्धान्त (14) मानव तस्करी कानून (15) किशोर न्याय व्यवस्था (16) कन्या भ्रूण हत्या प्रतिषेध विधि जैदी के द्वारा लिखी गई इनमें से कुछ पुस्तकें भारत के विधि क्षेत्र की प्रथम पुस्तकें है।।

    भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय ए.पी.जे. अब्दुल कलाम तथा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इनके अभूतपूर्व प्रयास के लिये अपना प्रशंसनीय तथा सराहनीय पत्र भेजा है। विधि के क्षेत्र में अपनी अभूतपूर्व सेवायें प्रदान करने के लिये जैदी को वर्ष 2009 में ऑल इण्डिया हजरत अली नेशनल एवार्ड वर्ष 2010 में आई.आर.डी. • अवा, वर्ष 2011में इलाहाबाद एस. उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश द्वारा हिन्दी विधि सेवा सम्मान वर्ष 2012 में भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा पण्डित गोविन्द बल्लभ पन्त पुरस्कार, वर्ष 2012 2013 2014 तथा 2015 में भारत सरकार के विधि एवं न्याय मंत्रालय द्वारा राज पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। वर्ष 2012 में ही भारत के राष्ट्रपति द्वारा माननीय प्रणव मुखर्जी द्वारा राजीव गांधी नेशनल अवार्ड से सम्मानित किया और वर्ष 2012 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मोतीलाल नेहरू पुरस्कार से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा 14 सितम्बर 2013 तथा माननीय उच्च न्यायालय के न्यायाधीश डी.दाई चन्द्रचूड़ द्वारा 15 सितम्बर, 2015 को सम्मानित किया गया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here