ब्रेथवेट एंड कंपनी लिमिटेड में मनाया गया हिंदी सप्ताहोत्सव

0
19

कलकत्ता : ब्रेथवेट एंड कंपनी लिमिटेड में 14 से 21 सितंबर 2021 के बीच सरकारी नीति के तहत राजभाषा हिंदी को बढ़ावा देने और कंपनी के कर्मचारियों के बीच हिंदी के उपयोग में रुचि पैदा करने के उद्देश्य से ‘हिंदी सप्ताहोत्सव-2021’ मनाया गया। हिंदी सप्ताह समारोह का समापन सत्र कार्पोरेट कार्यालय में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार मृत्युंजय कुमार सिंह (आईपीएस), प्रो. आशुतोष एवं प्रो. प्रियंकर पालीवाल उपस्थित थे। इस अवसर पर संस्थान की ओर से अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक यतीश कुमार भी उपस्थिति रहे। आमंत्रित वक्ताओं ने राजभाषा हिंदी से संबंधित अपने संबोधन में हिंदी की दशा और दिशा को रेखांकित किया।  कार्यक्रम का आरम्भ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ हुआ, जिसके बाद चीफ वर्क्स मैनेजर अनिल कुमार शाही ने स्वागत भाषण दिया।

इस अवसर पर प्रियंकर पालीवाल ने ‘हिंदी का पर्यावरण’ विषय पर अपना वक्तव्य दिया। उन्होंने कहा, ’ज्ञान का एकमात्र माध्यम भाषा है। इसलिए  दुनिया की 42% से अधिक भाषाओं का समाप्ति के कगार पर पहुंचना मानवता के लिए अभिशाप है। भाषाएं हमारी वहनीय जड़ हैं, इसलिए हम सभी को अपनी जड़ों की रक्षा करने की आवश्यकता है।’ वहीं, ‘वर्तमान शिक्षा प्रणाली: पुरनावलोकन’ विषय पर अपने संबोधन में प्रो. आशुतोष ने प्राचीन एवं नवीन शिक्षा प्रणाली पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा, ‘शिक्षा प्रणाली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करने की जगह हमें शिक्षा प्रणाली को बदलने की दिशा में काम करने की आवश्यकता है। हमें प्राचीन और नवीन पद्धति की नहीं, बल्कि समय के अनुरूप शिक्षा पद्धति की आवश्यकता है।‘

मृत्युंजय कुमार सिंह (आईपीएस) ने ‘क्षेत्रीय भाषा बनाम हिंदी’ विषय पर अपना वक्तव्य दिया। उन्होंने कहा, ‘यह  क्षेत्रीय और राष्ट्रीय भाषा की लड़ाई का समय नहीं है। अगर हम भाषा के लिए लड़ते रहेंगे तो विचारों को गढ़ नहीं सकेंगे। इसलिए राष्ट्रीय भाषा हो या क्षेत्रीय भाषा, उदार होने पर ही उनका अस्तित्व बचा रहेगा।‘ स्वरचित बांग्ला कविता के साथ उन्होंने अपना संबोधन समाप्त किया। श्री दीपक ठाकुर ने प्रद्युम्न किशोर मिश्रा, महाप्रबंधक- (मानव संसाधन, प्रशासन, सुरक्षा) द्वारा लिखित एक हिंदी कविता ‘हिंदी की आकांक्षा’ का पाठ किया।

आमंत्रित कवियों का धन्यवाद करते हुए कंपनी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक यतीश कुमार ने कहा, ‘ऐसे आयोजनें से कर्मचारियों के बीच हिंदी बोलने-सुनने का उत्साह बढ़ता है। संस्था हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए हमेशा से ऐसे आयोजन करती रही है और आगे भी भाषा के उत्थान में अपना योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध है।‘

इसके उपरांत हिंदी सप्ताह के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं व प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में डी.के. गायेन, सलाहकार (परियोजनाएं) एवं रजनीश अरोड़ा, सलाहकार (विपणन) भी उपस्थित थे और कार्यक्रम में सभी वर्गों के कर्मचारियों ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया। कार्यक्रम का संचालन हंस राज (प्रबंधक, मीडिया) एवं दीपक ठाकुर (हिंदी अधिकारी) ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here