नसंबदी कराने वालों में प्रयागराज के पुरुष आगे

0
13

प्रयागराज : उत्तर प्रदेश में पुरुष नसंबदी कराने वालों में प्रयागराज के पुरुष सबसे आगे हैं। यहां पिछले पांच सालों से पुरुष नसबंदी के लिए प्रयागराज टॉप पर रहता है। इसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से प्रयागराज की टीम को सम्मानित भी किया जा चुका है। 22 नवंबर से पुरुष नसबंदी पखवाड़ा शुरू हो गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से संबंधित स्वास्थ्यकर्मियों को इसमें ज्यादा से ज्यादा पुरुष नसबंदी कराने का निर्देश भी दिया गया है। यह पखवाड़ा चार दिसंबर तक चलाया जाएगा। इसमें जनपद की 4447 आशा कार्यकर्ता घर घर जाकर लोगों को नसबंदी कराने के फायदे बताएंगी और इसके लिए प्रेरित करेंगी।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. नानक सरन ने प्रत्येक ब्लाक स्तर से 10-10 व प्रत्येक शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को पांच-पांच पुरुष नसबंदी कराने का लक्ष्य दिया है। यानि 325 नसंबदी करने का लक्ष्य टीम को शासन दिया गया है।

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सत्येन राय ने बताया कि पखवाड़े की सफलता हेतु जिला स्तरीय बैठक कर सभी ब्लाक के प्रभारी चिकित्साधिकारी एवं बी.सी.पी.एम, बी.पी.एम, को निर्देशित किया गया हैं ताकि शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति हो | उनहोंने बताया पुरूष नसबन्दी पखवाड़ा दो चरणों में चलाया जायेगा। प्रथम चरण के अभियान में दंपति से सम्पर्क होगा और दूसरे चरण में नसबन्दी करने का अभियान चलाया जायेगा।

नसंबदी कराने वालों पुरुषों को मिलेगी 3000 की धनराशि
परिवार नियोजन विशेषज्ञ मुकेश कुमार श्रीवास्तव ने दैनिक भास्कर को बताया कि जो भी पुरुष नसबंदी कराते हैं उन्हें प्रोत्साहन राशि के रूप में 3000 रुपये की धनराशि दी जाएगी। इसके अलावा नसबंदी के लिए प्रेरित करने वाली आशा, एएनएम को 400 रुपये दिए जायेंगे । इसी तरह यदि आशा कार्यकर्ता किसी ऐसे पुरुष की नसबंदी कराती है जिसके सिर्फ दो ही बच्चे हैं तो आशा को इसके लिए 1000 रुपये अतिरिक्त दिए जायेंगे ।

आकड़ा वर्ष – 2016-2020
पुरुष नसबंदी पखवाड़े के दौरान वर्ष 2016 में 52, 2017 में 85 व 2018 में 152 पुरुषों ने नसबंदी कराई ।
वर्ष 2019 कोरोना महामारी में 85 लोगों ने ही नसंबदी कराई। वर्ष 2020 में 113 लोगों ने नसबंदी कराई थी। इस वर्ष शुरू हुआ पुरुष नसबंदी पखवाड़ा चार दिसंबर तक चलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here