गर्भावस्था के दौरान मानसिक तनाव के प्रति किया गया जागरूक

0
90

कौशाम्बी : जिला मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम कौशाम्बी में शिविर लाकर मानसिक विकारो से ग्रस्त लोगों के साथ ही गर्भावस्था महिलाओं ने खासकर हिस्सा लिया जिनको गर्भ के पूर्व गर्भ के दौरान एवं गर्भ के तुरंत बाद होने वाली मानसिक परेशानियों के बारे में विस्तार से बताया गया l डॉ विजेता सिंह चिकित्सा अधिकारी ने महिलाओं के स्वास्थ्य का परिक्षण कर उचित परामर्श एवं दवाएं दिया तथा लगातार होने वाले मानसिक विकारो के प्रति जागरूक किया | कार्यक्रम जिला मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम कौशाम्बी में डॉ एस.के. झा, एसीएमओ एवं नोडल ऑफिसर, एनसीडी सेल, के नेतृत्व में शिविर का आयोजन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवादा में किया गया|

अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया

मनोचिकित्सक परामर्शदाता, डॉ जयनाथ बी.पी ने शिविर में आए लोगो को सरकार की योजनाओं के अंतर्गत दिए जा रहे सुविधाओं के बारे में विस्तार से बताया ब्लाक के लोगों को आसानी से उपचार उपलब्ध हो और मानसिक दिव्यांग लोगों को इसका लाभ मिल सके| उन्होंने शिविर में आए रोगियों के परिवार के सदस्यों को मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया तथा विभिन्न मानसिक परेशानियों एवं उनके प्रकार के बारे में लोगों को जानकारियां प्रदान की एवं जिला अस्पताल में मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत चलने वाली सभी सुविधाओं के बारे में विस्तार से बताया उन्होंने बताया कि शिविर में 58 लोगों का मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण कर निशुल्क दवाइयां वितरित की साथ ही परामर्श दिया गया l शिविर में डॉ ललित कुमार सिंह प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, नवादा प्राथमिक स्वास्थ्य, डॉ विजय शंकर एवं, श्रीमती प्रतिभा, स्वास्थ शिक्षा अधिकारी ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here